Best Web Blogs    English News

facebook connectrss-feed

अंधेरगर्दी

आम आदमी का दर्द ......

26 Posts

341 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.

गूगल हिंदी ट्रांसलेटर: हिंदी में लिखने लिए वरदान

पोस्टेड ओन: 8 Mar, 2011 जनरल डब्बा,लोकल टिकेट में


ब्लोगिंग की दुनिया में मै बहुत नया हूँ. पर कम्पूटर की दुनिया से मेरा बहुत पुराना नाता है . हिंदी मेरा पसंदीदा विषय रहा है . इसलिए जब जागरण पढते पढते जागरण जंक्शन का रुख किया तो बहुत से अच्छे लेख पढ़ने को मिले. मै भी कुछ लिखना चाहता था पर दिल में हिंदी कीबोर्ड में टाइपिंग की समस्या देख कर हिम्मत नहीं होती थी . पर यहाँ हिंगलिश को देख कर मन में हिम्मत आई और मै भी कुछ लिखने लगा पर समस्या थी क घर पर इंटरनेट नहीं होता था और ऑफीस में लिखना मुश्किल था.

अत मुझे ऐसे सॉफ्टवेर की तलाश थी जिसमें आसानी से ऑफ लाइन टाइपिंग कर सकूँ. तो गूगल ने सहयोग किया . वैसे तो इस बारे में राजकमल जी बहुत कुछ लिख चुके है फिर भी यह कुछ बेहतर लगा क्योकि यह गूगल का ट्रांसलेटर है इसे डाउनलोड करने के बाद हिंदी में टाइपिंग बहुत ही आसान हो गया है . तो मेरी भी इच्छा हुई की आपमें भी बाँटने की.

वैसे , मैंने अभी इसका बहुत ज्यादा उपयोग नहीं किया है पर जितना उपयोग किया मुझे बहुत अच्छा लगा. उसके बाद इसके और भी बेहतर उपयोग के बारे में आपको अगले लेख में बताऊंगा. फ़िलहाल आप इसे डाउनलोड करें और इसका उपयोग शुरू करें. इसकी डाउनलोड प्रक्रिया बहुत आसान है और इसकी साइज भी एक मब से कम है अत स्लो इन्टरनेट में भी इसे अधिकतम ५ मिनट लगेगा.

डाउनलोड करने की प्रक्रिया..

१) यहाँ क्लिक करें.( http://www.google.com/ime/transliteration/)

२) इस पेज पर दो डाउनलोड लिंक मिलेंगे. पहला एक्सपी के लिए और दूसरा विस्टा और सेवेन के लिए है.

hindimain

३) जब इंस्टॉलर डाउनलोड हो जाये तो उसे चलायें। यह कुछ डाउनलोड करने की शुरूआत करेगा।

४) नियम व शर्तों को स्वीकार करें-

hindi1

५) गूगल इनपुट सेट-अप इंस्टॉल हो रहा है-

hindi3

६) फिनिस पर क्लिक करे.

कन्फिगरेशन

आप यदि इस टूल को चलाना चाहते हैं तो पहले तो आपके सिस्टम में यूनिकोड का सपोर्ट इंस्टॉल होना चाहिए। इसके लिए आप Control Panel -> Regional and Language Options -> Languages tab -> Install files for complex scripts and right to left languages और Install files for East Asian languages दोनों को चेक्ड करके इंस्टॉलर सीडी द्वारा इंस्टॉल करें। इसके बाद आपके टूलबार में भाषा का विकल्प दिखने लगेगा। भाषा के इस विकल्प को लैंग्वेज बार भी कहते हैं।

यदि लैंग्वेज-बार न दिखे तो।

डेस्कटॉप पर राइट क्लिक करें (दायाँ क्लिक करें) और टूलबार में जायें और निम्नलिखित चित्र की भाँति लैंग्वेज़ बार इनेबल करें।

Windows XP

hindi4

1. जायें-Control Panel -> Regional and Language Options -> Languages tab -> Text services and input languages (Details) -> Advanced Tab

2. यह सुनिश्चित कीजिए कि System configuration विकल्प के अंतर्गत Turn off advanced text services चेक्ड नहीं है।

3. जायें- Control Panel -> Regional and Language Options -> Languages tab -> Text services and input languages (Details) -> Settings Tab

4. Language Bar पर क्लिक करें

5. Show the Language bar on the desktop चुनें और OK पर क्लिक करें।

हॉट की बनाना :

Windows XP

1. Control Panel -> Regional and Language Options -> Languages tab -> Text services and input languages (Details) -> Settings Tab

2. यदि या Google Installed Services बॉक्स में भाषा के रूप में नहीं जुड़ा है, तो Add पर क्लिक करके Add Input language dialog box खोलें Input language में जोड़े और Keyboard layout/IME में Google Input चुनें। OK पर क्लिक करें।

3. Key Settings पर क्लिक करें।

4. Hot keys for input languages में Switch to -Google Input चुनें

5. Change Key Sequence पर क्लिक करें

6. Enable Key Sequence चुनें

7. Left ALT + SHIFT + Key 1 जैसा कोई विकल्प चुनें।

8. ऊपर्युक्त सभी सेटिंग को एप्लाई करें।

9. अब नोटपैड, वर्डपैड जैसे किसी अनुप्रयोग को खोलकर यह चेक करें कि शॉर्टकर्ट काम कर रहा है या नहीं। Left ALT + SHIFT + Key 1 दबायें और देखें कि हिन्दी में लिख पा रहे हैं या नहीं।

अभी मै इसका और परिक्षण कर रहा हू . जैसा की मैंने बताया यह बहुत कमाल की चीज़ है तो इसके और भी फीचर मै आगे भी बताऊंगा तब तक आप इसका आनंद लें.



Tags: हिंदी टाइपिंग  हिंदी ब्लॉग्गिंग  

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (15 votes, average: 3.67 out of 5)
Loading ... Loading ...

18 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

shreyas naik के द्वारा
November 10, 2013

Mauritius is a small island located in the South-West Indian Ocean (57°35’ E; 20°15’ S), off the east coast of Madagascar. The Republic of Mauritius (Mauritius for short and Maurice in French) comprises of the main island Mauritius, together with Rodrigues, St. Brandon Island, and Agalega Islands as its dependencies. It claims sovereignty on Diego Garcia and Tromelin. Mauritius is a volcanic island covering an area of 1,865 km² (720 sq. miles). The capital of Mauritius is Port-Louis and the official language of the country is English though French and Creole are widely spoken. The Mauritian currency is the Rupee (MUR). The National flag is four horizontal stripes: red (top), blue, yellow, and green.

rahul singh naruka के द्वारा
October 31, 2012

मेरा नाम राहुल सिह नरूका है. अलवर शहर (राज.)  मै कहना चाहत हॅू की आप अपनी जिंदगी मे कभी झूठ का साथ मत हमेशा सच्च का साथ दो झूठ जब बोले जब किसी दयालू व्यक्ति जो सही हो और उसकी कोई गलती ना हो तब झूठ बोलो लेकीन कभी माता पिता से झूठ  मत बोलो ओर अपने से बडो ओर अपने प्रिय अध्यापक से झूठ कभी मत बोलो अतः अपनी ईस जिंदगी मे 

Munish के द्वारा
March 21, 2011

शुक्रिया दीपक भाई वैसे मैं इसी कला का इस्तमाल करता हूँ http://munish.jagranjunction.com/2011/03/19/%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%b0%e0%a5%80-%e0%a4%8f%e0%a4%a4%e0%a4%bf%e0%a4%b9%e0%a4%be%e0%a4%b8%e0%a4%bf%e0%a4%95-%e0%a4%b9%e0%a5%8b%e0%a4%b2%e0%a5%80-holi-contest/

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 22, 2011

    मुनीश जी, वैसे शाही जी ने भी एक बेहतर टूल सुझाया है .

Rajkamal Sharma के द्वारा
March 19, 2011

आदरणीय दीपक जी …..पैरीपैना ! लता दीदी की एक पैरौडी प्रस्तुत है :- तुम्हे और क्या दूँ मैं बधाई के \”सिवाय\” कि तुमको हमारी \”नजर\” लग जाए ….. इस राज्कम्लिया हरकत को सहन कर लीजियेगा कहीं गुस्से में डिलीट मत कर देना ….. होली कि पिचकारी भर -२ के शुभकामनाये

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 21, 2011

    आदरणीय गुरुदेव आपके स्नेह का आभारी हूँ. किंचित कारन वश मेरी देर से शुभकामनाये कबूल कीजिये.

Alka Gupta के द्वारा
March 8, 2011

दीपक जी , ब्लॉग लिखने के लिए ज्ञानवर्धन अपनी जानकारी को साझा करने के लिए धन्यवाद !निश्चित ही लोगों को इससे लाभ मिलेगा !

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 9, 2011

    आदरणीय अलका जी, जानकारी आपको अच्छी लगी , मेरा प्रयास सफल रहा . आगे भी कोशिश करुगा और बेहतर जानकारी देने के लिए.

आर.एन. शाही के द्वारा
March 8, 2011

अच्छी जानकारी, और भलीभांति समझाकर प्रस्तुत किया आपने पांडेय जी । गूगल ट्रांस्लिटर सचमुच अच्छा और हिन्दी लेखन के लिये सबसे लोकप्रिय साफ़्टवेयर है । परन्तु मैंने देखा कि इसके प्रयोगकर्त्ता फ़ेसबुक आदि पर हिन्दी में नहीं लिख पाते । जबकि मैं जो फ़ोनेटिक हिन्दी राइटर इस्तेमाल करता हूं, उससे किसी भी साइट और अपने डेस्कटाप तक पर हिन्दी बड़ी आसानी से लिख पाता हूं । गूगल देवनागरी का पूर्णविराम नहीं मानता, अन्तर्राष्ट्रीय डाट से ही पूर्णविराम का काम लेना पड़ता है । जबकि फ़ोनेटिक राइटर से आप देखिये कि उसी डाट को दबाने पर मैं मौलिक पूर्णविराम दे पा रहा हूं । इसी प्रकार गूगल के साथ हर कहीं लैंगुएज बार का पुछल्ला पीछे पड़ा रहता है, जो हर पेज पर डिस्टर्ब करके रखता है । राइटर के साथ ऐसी कोई बात नहीं । हरे रंग का ‘अ’ सिस्टम ट्रे में पड़ा रहता है, जिसे जब चाहे आन आफ़ कर लें । फ़ाइल का साइज भी एमबी के बजाय कुछ सौ केबी का ही है, जो सेकंड्स में डाउनलोड होता है । रीजनल एन्ड लैंगुएजेज में मात्र एकबार जाकर सेटिंग्स को दुरुस्त करना होता है, और आवश्यकतानुसार सीडी डालनी होती है । बाक़ी कुछ नहीं करना पड़ता, सबकुछ डेस्कटाप के सफ़ेद ‘अ’ आइकन में ही मौज़ूद है । यह सब कुछ ऐसे कारण हैं, जो मेरे हिसाब से इस साफ़्टवेयर को गूगल वाले से बेहतर साबित करते हैं । धन्यवाद ।

    Rajkamal Sharma के द्वारा
    March 8, 2011

    आदरणीय शाही जी ……सादर प्रणाम ! जिस तरह मैं आप का नाम \\\’रौशन\\\’ कर रहा हूँ बिलकुल उसी प्रकार हमारे प्रिय पाण्डे जी मेरा नाम रोशन कर रहे है ….. इसलिए इनका हौंसला बढाइये ….. धन्यवाद

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 9, 2011

    आदरणीय शाही जी, जब मैंने ये पोस्ट लिखी थी उस वक्त मई जूझ रहा था हिंदी में लिखने के लिए. तभी मुझे यह मिला . पर पोस्ट मई आज कर पाया. जब आपने फोनेटिक के बारे में जानकारी दी तो मैंने उसे भी try किया और बहुत ही बेहतर लगा . मैं उसके उपयोग के बारे में भी लिखूंगा. आपकी दी जानकारी के लिए आपका धन्यवाद.

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 9, 2011

    आदरणीय गुरुदेव , आपने मुझ नाचीज़ को इस काबिल समझा मेरी खुसनासीबी है ये.

    आर.एन. शाही के द्वारा
    March 9, 2011

    भाई साहब लाइट दिखाने का शुक्रिया ।

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 9, 2011

    आदरणीय शाही जी, बस आपलोगों का हाथ रहे हमारे सर पर. बाकि मुझे तो आपलोगों को पढना भाता है. ये सब साझा कर रहा हु मैं उन नए लेखको के लिए जिन्हें परेशानी हो रही है. वैसे इस मामले में आप का योगदान अनुकरणीय है. मै तो बस ” महाजनों येन गतः सा पन्था ” का ही अनुसरण कर रहा हूँ.

    March 9, 2011

    दीपक जी मैं खुद भी गूगल आईएमइ इस्तेमाल कर रहा हूँ और इसके फायदे उठा रहा हूँ, आपने बड़ा अच्छा किया कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके इस्तेमाल का तरीका बताने की पहल की.

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 10, 2011

    अग्रज राजेन्द्र जी, उत्साहवर्धन के लिए धन्यवाद..

Deepak Sahu के द्वारा
March 8, 2011

दीपक जी! आपकी इस जानकारी के लिए बहुत बहुत धन्यवाद! आशा है इससे फाइदा जरूर होगा!

    दीपक पाण्डेय के द्वारा
    March 9, 2011

    दीपक साहूजी, अगर आपको इसके उपयोग में कोई परेशानी आये तो मुझे जरुर अवगत कराये.